स्वामी प्रसाद मौर्य पर गैर जमानती वारंट हुआ जारी।।


अभी हाल ही में भाजपा और योगी सरकार को अलविदा कह कर पार्टी से इस्तीफा देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य कीअचानक मुश्किलें बढ़ गई हैं। आपको बताते चले कि सुल्तानपुर में स्वामी प्रसाद मौर्य पर हिंदू देवी देवताओं पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले में आज एमपी-एमएलए कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया है।साथ ही साथ कोर्ट ने उन्हें 24 जनवरी तक पेश होने का भी आदेश दे दिया है।

गौरतलब है कि 2014 मे समाजवादी पार्टी के शासनकाल में बसपा के कद्दावर नेता रहे स्वामी प्रसाद मौर्य ने हिंदू देवी देवताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करते हुए विवादित बयान दे डाला था। स्वामी प्रसाद ने मौर्य ने कहा था कि , 'शादियों में गौरी-गणेश की पूजा नहीं करनी चाहिए। यह मनुवादी व्यवस्था में दलितों और पिछड़ों को गुमराह कर उनको गुलाम बनाने की साजिश है।'

इसी मामले में बुधवार को स्वामी प्रसाद मौर्य कोर्ट में हाजिर नहीं हुए तो अपर मुख्य दंडाधिकारी एमपी-एमएलए ने उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया। अब इस मामले में 24 जनवरी कोअगली  सुनवाई की तारीख तय हुई है।जबकि उन्हें न्यायालय ने

12 जनवरी को हाजिर होने को कहा था।।।

स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ यह गैर जमानती वारंट कोई नया नहीं है । बल्कि यह वारंट न्यायालय ने पहले से जारी किया  था, लेकिन स्वामी प्रसाद मौर्य ने हाईकोर्ट से इस गैर जमानती वारंट पर 2016 से ही स्टे ले रखा था। हाई कोर्ट से मिले पूर्व में स्टे को न्यायालय ने 6जनवरी में ही खारिज कर दिया था। और एमपी-एमएलए कोर्ट ने स्वामी प्रसाद मौर्य को 12 जनवरी को हाजिर होने का आदेश दिया था, लेकिन वह आज भी हाजिर नहीं हुए तो कोर्ट ने पुनः आज गैर जमानती वारंट जारी कर दिया गया। भारतीय जनता पार्टी से इस्तीफा देने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य की मुश्किलें बढ़ने से सियासत में अचानक गहमागहमी बढ़ गई है।। अब स्वामी प्रसाद मौर्य पर कानूनी शिकंजा कसता हुआ नजर आ रहा है।


विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads