UFI की बैठक आज सुल्तानपुर में हुई संपन्न..

 यू आई एफ यूनाइटेड इदरीसी फ्रंट सुल्तानपुर इकाई के तत्वधान में बैठक हुई संपन्न.. 


यूनाइटेड इदरीसी फ्रंट के द्वारा एक बैठक जनपद सुल्तानपुर के नवीपुर मोहल्ले में प्रोफेसर मोहम्मद शमीम इदरीसी के आवास पर, पूर्व नायक तहसीलदार अब्दुल हई की सदारत वा सुल्तानपुर UIF जिला अध्यक्ष मकबूल अहमद नूरी इदरीसी के संचालन में आयोजित हुई। जिसमें क्षेत्रीय इदरीसी समाज के लोगों के साथ साथ देश प्रदेश से आए पदाधिकारी भी इस बैठक में शामिल हुए।।


आपको बताते चलें की यूनाइटेड इदरीसी फ्रंट एक ऐसी संस्था है जो मुस्लिम समुदाय मे खास कर के इदरीसी समाज के पिछड़े, मजलूम, गरीब , व असहाय लोगों के विकास और प्रगति के लिए काम करती है। इस कार्यक्रम में महाराष्ट्र मुंबई से आए यूनाइटेड इदरीसी फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष अब्दुल समद इदरीसी व जनरल सेक्रेटरी हाजी शमीम इदरीसी, राजधानी दिल्ली से आए शहजाद अली इदरीसी वा सुल्तानपुर UIF प्रवक्ता प्रोफेसर मोहम्मद शमीम इदरीसी आदि ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए अपने विचार व्यक्त किए। 


सबसे पहले महाराष्ट्र मुंबई से आए UIF के राष्ट्रीय अध्यक्ष अब्दुल समद इदरीसी ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि मैं अपनी इदरीसी कम्युनिटी को जगाने,बेदार करने,उनके आपस के मतभेद को दूर करने,और उन्हें संगठित करने के साथ साथ शिक्षा के क्षेत्र में आगे ले जाने, बच्चों को अच्छी शिक्षा और संस्कार देने,के लिए उन्हें प्रेरित करने आया हूं।उन्होंने इदरीसी समाज के लोगों को आवाहन करते हुए कहा कि हमारा इदरीसी समाज पढ़ेगा तो देश के लिए, जिएगा तो देश के लिए, और मरेगा तो भी देश के लिए।


UIF के जनरल सेक्रेटरी हाजी शमीम इदरीसी ने कहा कि हमारे इदरीसी समाज ने शहीद वीर अब्दुल हमीद जैसा बहादुर योद्धा दिया है जिस पर हम इदरीसी समाज और देश को गर्व है।उन्होंने कहा कि इदरीसी समाज आज सामाजिक रुप से काफी पिछड़ा हुआ है चाहे वह शिक्षा का क्षेत्र हो, चाहे व्यापार और विकास का क्षेत्र हो। उन्होंने कहा कि UIF पूरे भारत में इदरीसी समाज को जगह जगह पहुंच कर जगाने का काम कर रही है। 


वही राजधानी दिल्ली से आए शहजाद अली इदरीसी ने कहा कि मैं मीडिया और सोशल मीडिया के माध्यम से आज इदरीसी समाज के लोगों को एक संदेश देना चाहता हूं कि जिस तरह 1965 की जंग में पाकिस्तान जैसे दुश्मन से लोहा लेते हुए इदरीसी समाज में जन्मा हमारा एक जवान अब्दुल हमीद जिसने बहादुरी और बुद्धिमानी का परिचय देते हुए पाकिस्तान के गुरुर और घमंड को तोड़ डाला था। वीर अब्दुल हमीद ने सात पाकिस्तानी पेटेंट टैंको को उड़ा कर दुश्मनों के होश उड़ा दिए थे। उन्होंने आगे कहा कि शहीद वीर अब्दुल हमीद जैसा बहादुर आजादी के बाद से आज तक दूसरा पैदा नही हुआ।वही गुजरे दौर के मशहूर शायर अल्लामा इकबाल के विषय में भी चर्चा करते हुए कहा कि अल्लामा इकबाल की आज भी दुनिया लोहा मानती है वह भी इदरीसी समाज के परिवार में ही जन्मे थे। ऐसे बहुत से मशहूर और वीर योद्धा हमारे समाज से निकले हैं जिनका व्यक्तित्व आज भी दुनिया के लिए एक मिसाल बनी है। 



सुल्तानपुर यूनाइटेड इदरीसी फ्रंट के प्रवक्ता प्रोफेसर मोहम्मद शमीम इदरीसी ने कहा कि यह कार्यक्रम और बैठक यूनाइटेड इदरीसी फ्रंट के जिला अध्यक्ष मकबूल अहमद नूरी इदरीसी के आह्वान पर हमारे आवास पर संपन्न हुई है और इस बैठक का मुख्य उद्देश्य इदरीसी समाज को जागरूक करना उन्हें संगठित करना और उनके बेहतर विकास के लिए प्रयास करना है जिससे देश और समाज के निर्माण में इदरीसी समाज अपना अहम योगदान दे सकें।इस बैठक के माध्यम से इदरीसी समाज के लोगों को यह संदेश भी दिया गया कि आवश्यकता पड़े तो देश के लिए कुर्बानी भी देने में पीछे ना हटे चाहे देश के लिए यह कुर्बानी शहादत के रूप में याद की जाए,चाहे देश के विकास में शिक्षा, व्यापार और अपने उत्कृष्ट सामाजिक कार्यों के योगदान से याद किया जाए।



NOW नेशन लाइव न्यूज़ के लिए ब्यूरो रिपोर्ट...


विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads