जश्न ए ख्वाजा गरीब नवाज व उर्स इमामे मिल्लत हाजी मोहम्मद इमाम अली कादरी धूम धाम से मनाया गया||

 जश्न ए ख्वाजा गरीब नवाज व उर्स इमामे मिल्लत हाजी मोहम्मद इमाम अली कादरी धूम धाम से मनाया गया ।


उर्से इमामे मिल्लत में मुफ्ती अकील अहमद मिस्बाही बयान करते हुए


उर्से इमामे मिल्लत में उपस्थित सम्मानित क्षेत्रवासी

लंभुआ में हर साल की तरह इस साल भी 26 फरवरी को उर्स इमामे मिल्लत शानो शौकत से मनाया गया। सुबह से ही  कुरान खानी पढ़ने वालों का सिलसिला शुरू हुआ और भारी भीड़ के साथ चलता रहा। दरगाह पर उलमाये किराम के साथ इलाके के लोगों द्वारा चादर पेश कर गुलपोसी के साथ सलातो सलाम पेस किया गया। जश्ने ख़्वाजा गरीब नवाज व उर्स इमामे मिल्लत को खिताब करते हुए मुफ्ती एहतेशाम आलम कादिरी ने अपने बयान मे मुख्य रूप से अपने बच्चों के शिक्षा पर जोर देने को कहा रौनाही से आए मुफ्ती अकील अहमद मिस्बाही ने नशा मुक्त समाज बनाने पर जोर दिया। तहफफुज मुआसरा कमेटी के सदर मौलाना अकबर अली क़ादरी ने शादियों को आसान करने और बिना दहेज के शादी करने पर जोर दिया।मौलाना नुरुल हसन उवैसी ने इमामे मिल्लत को खिराजे अकीदत पेश करते हुए उनकी जीवनी पर रोशनी डाली । नातिया मुकाबला में प्रथम विजेता हाफिज अनवर रजा व हाफिज रोशन अली व हाफिज रमजान ने कलाम पेश किया संचालन मौलाना इमरान बरकाती ने किया।इस अवसर पर मौलाना नसीम अनवर,मौलाना अब्दुल रशीद,मौलाना अब्दुल हफीज,मौलाना जैनुल आबेदीन,हाफिज इसराइल मौलाना गुलाम रब्बानी आदि शामिल रहे। मुख्य रूप से मकबूल अहमद नूरी असगर अली फारुकी, खुर्शीद अहमद फारुकी, सिराजुद्दीन सिद्दीकी,रहे। आयोजक गुलाम दस्तगीर कादरी ने आगंतुकों का आभार व्यक्त किया।

Tags

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads