डिप्टी सीएम के आगमन पर युवक कांग्रेस अध्यक्ष वरुण मिश्रा का कटाक्ष।।

डिप्टी सीएम के आगमन पर युवक कांग्रेस अध्यक्ष वरुण मिश्रा का कटाक्ष।।
जब खुशी दुबे कराह रही थी और भगवान परशुराम का सुल्तानपुर की धरती पर हुआ था अपमान, तक कहां थे बृजेश पाठक।
डिप्टी सीएम एवं स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक के शनिवार को सुल्तानपुर आगमन पर युवक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने करारा कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा कि जब खुशी दुबे कराह रही थी और सुल्तानपुर की धरती पर भगवान परशुराम का अपमान हुआ था। तब उस समय बृजेश पाठक कहां थे। कांग्रेस प्रत्याशी ने ऐलान किया कि चेयरमैन पद मिलने पर ना कमीशन लूंगा और ना ही लेने दूंगा। नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिए चुनाव को लेकर सुल्तानपुर में सरगर्मियां काफी तेज चल रही हैं। जहां पर भारतीय जनता पार्टी की तरफ से उम्मीदवार बीजेपी के जिला उपाध्यक्ष प्रवीण अग्रवाल हैं। वहीं कांग्रेस की तरफ से युवा कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष वरुण मिश्रा ने दावा ठोक रखा है । वहीं समाजवादी पार्टी से सैयद रहमान प्रत्याशी के रूप में हुंकार भर रहे हैं । इसके अलावा आम आदमी पार्टी से डॉक्टर संदीप शुक्ला अपना विस्तार करने और दावेदारी को प्रबल बताने में जुटे हुए हैं। कल यानि शनिवार को डिप्टी सीएम एवं स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक सुल्तानपुर दौरे पर पहुंच रहे हैं। ब्राह्मण वोटों को लुभाने के रूप में इस दौरे को देखा जा रहा है। जिस पर युवक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं चेयरमैन पद प्रत्याशी वरुण मिश्र ने सवाल खड़े करते हुए उन पर कटाक्ष किया है।मैं नौजवान हूं, इसलिए चेयरमैन पद के चुनाव में नौजवान ही हमारा मुद्दा होगा। नगर पालिका में 40% की कमीशन बाजी चल रही है। इस कमीशन बाजी को मैं बंद करूंगा। ना कमीशन लूंगा और नहीं लेने दूंगा। पिछले 20 साल में भारतीय जनता पार्टी के भ्रष्टाचार से सुल्तानपुर वासी कराह रहे हैं। जाम से 2:00 बजे छूटने वाले बच्चे शाम 5:00 बजे घर पहुंच रहे हैं। एक पिता होने के नाते मैं भी इस पीड़ा से पीड़ित हूं। अतिक्रमण मुक्त और गड्ढा मुक्त सड़कों को तैयार करना हमारा एजेंडा है। साहित्यकार अदम गोंडवी की पंक्तियां सुल्तानपुर की विकास की पोल खोल रही है। जब जाम से हमारे बच्चे शाम 5:00 बजे घर पहुंच रहे हैं तो पिता और मां के दिल पर क्या बीतती होगी । इस सुल्तानपुर को मुक्त करना है, हरा और स्वच्छ सुल्तानपुर बनाना है। रोजगार बढ़ाना और भ्रष्टाचार को खत्म करना हमारे प्रमुख मुद्दे होंगे। डिप्टी सीएम/ स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक से जनता सवाल पूछे कि जब खुशी दुबे अपनी पीड़ा से कराह रही थी, तब वह कहां थे। जब परशुराम का सुल्तानपुर की धरती पर अपमान हुआ, उस समय बृजेश पाठक कहां थे। मुझे विश्वास है कि उनसे यह सवाल होगा कि पंडित जी आप उस समय कहां थे। मैं सीना तान कर उनसे सवाल कर सकता हूं। लेकिन वह सीना तान कर जवाब नहीं दे पाएंगे, यह मुझे पता है।

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads