तिरहुत स्टेट का असली राजा कौन,वरासत के लिए दो लोगों ने किए दावे ।।

तिरहुत स्टेट का असली राजा कौन,वरासत के लिए दो लोगों ने किए दावे।।
सुल्तानपुर-जिले के हलियापुर थानाक्षेत्र के तिरहुत स्टेट में दो पक्ष आमने-सामने है। दोनों का दावा है वे वेरास्त के मालिक हैं। लेकिन इनमें असली कौन है प्रशासन भी उसकी तलाश नहीं कर पा रहा। हालांकि दोनों के अपने-अपने दावे अवश्य हैं।राय भानु सिंह बताते हैं जगदंबा बख्श सिंह की प्रॉपटी का झगड़ा चल रहा है। उन्होंने हमारे चाचा सुमन सिंह को अपने जीवन काल में गोद लिया था। 1971 में उन्होंने हमारे पिता स्व. ओमप्रकाश सिंह व अनिल सिंह के नाम पर एक वसीयत कर दिया था। जिसके आधार पर हम लोग तब से जमीन पर काबिज हैं। चकबंदी के कागजात में भी हमारा नाम दर्ज है। मुकेश सिंह जो हमारे ऊपर आरोप लगा रहे हैं भू-माफिया और दबंगई का आरोप लगाया है उस पर मेरा कहना ये है कि सक्षम न्यायालय द्वारा आजतक मुझे कब्जा हटाने के लिए आदेश नहीं हुआ है। वरासत का वाद नायब तहसीलदार के यहां चल रहा है। मुकेश सिंह ने 145 के तहर मुकदमा किया गया था, जिसे एसडीएम बल्दीराय महेंद्र श्रीवास्तव ने उसे निरस्त कर दिया है। पुलिस रिपोर्ट के आधार पर जो हमारा कब्जा माना गया है उसी पर हम बरकार हैं। उनको जो भी कष्ट है न्यायालय में आकर वो भी साक्ष्य दें हम भी साक्ष्य देंगे। देवरती कुंवर जो वो रजिस्टर्ड वसीयत बताते हैं उसका जो भी हिस्सा है उन्हें मिल चुका है। उसमें से अधिकांश भाग विक्रय भी कर चुके हैं।मुकेश सिंह का कहना है हम जगदंबा बक्श सिंह के असली वारिस हैं। हमारे पास एक रजिस्टर्ड वसीयत लिखी गई है मैं उसी खानदान से हूं। ये लोग जबरिया इनके पास कुछ है नहीं अनरजिस्टर्ड एक फर्जी कागज लगाकर जिसमें ना कोई गवाह है ना कोई लिखने वाला है। उसे लगाकर फर्जी मुकदमा करके हमारी जमीन हड़पना चाहते हैं। हम सांसद मेनका गांधी और डीएम से निवेदन करते हैं हमारी जमीन हमको दिलाई जाए।
१..कुंवर मुकेश सिंह,(उत्तराधिकारी तिरहुत राजा बद्री प्रसाद सिंह) 2.. राय भानू सिंह

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads