सुल्तानपुर में निकला 25 किमी लंबा पैदल मार्च: हाथ में तिरंगा लेकर शिया समुदाय ने लगाए लब्बैक या हुसैन के नारे।।

सुल्तानपुर में निकला 25 किमी लंबा पैदल मार्च: हाथ में तिरंगा लेकर शिया समुदाय ने लगाए लब्बैक या हुसैन के नारे, 


इमाम बाड़ा 

सुल्तानपुर में शिया समुदाय द्वारा 25 किमी लंबा पैदल मार्च अलीगंज बाजार स्थित दरगाह हजरत अली से निकाला गया। जो लखनऊ-वाराणसी राजमार्ग से होता हुआ देर शाम शहर के घासीगंज कर्बला में समाप्त हुआ। हजारों की संख्या में जमा हुए लोगों ने लब्बैक या हुसैन के नारे लगाए। इस दौरान लोगों ने देश की आन-बान और शान तिरंगा भी हाथों में ले रखा था। 





अलीगंज स्थित दरगाह पर मजलिस को मौलाना असगर नकी ने खिताब किया। उन्होंने कहा कि मदद करना हर इंसान की जिम्मेदारी है। लेकिन इंसान वही मदद करता है जो जिंदा हो। मुर्दा कभी मदद नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि दुनिया में सिर्फ आले मोहम्मद ही हैं जो शहादत के बाद मदद कर रहे हैं। 


मनियारी निवासी मौलाना रजी बताया कि पैदल मार्च कर्बला वालों की याद में निकाला गया है। दरअस्ल अरबाईन के मौके पर जो लोग इराक स्थित कर्बला नहीं पहुंच सके हैं वो इस पैदल मार्च में शामिल होते हैं। लगभग सात वर्षों से ये कार्यक्रम शहर स्थित शिया समुदाय के लोगों द्वारा निकाला जा रहा है। जिसमें जिला प्रशासन का पूरा सहयोग मिलता रहा है। कार्यक्रम में रजा हॉस्पिटल की ओर से मेडिकल कैंप व जगह-जगह लोगों के लिए सबील भी लगाई गई थी। 


इस मौके पर आफताब आलम, अली जाफरी, बलागत हुसैन, अफरोज हैदर, नुरूल हसन, आजादार हुसैन, हसन मेहदी, डॉ तक़ी हैदर, रमीज इमाम , अरमान हुसैन, अली मोहम्मद, अमन सुल्तानपुरी, कबीर हैदर आदि मौजूद रहे।


25 किलो मीटर का लंबा सफर तय करते शिया समुदाय के लोग


विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads