सुल्तानपुर के दियरा राजघराने में कब्जेदारी को लेकर रार: राज परिवार के दो पक्ष भिड़े, हाईप्रोफाइल मामले में पुलिस ने दोनों पक्ष को किया पाबंद

सुल्तानपुर के दियरा राजघराने में कब्जेदारी को लेकर रार: राज परिवार के दो पक्ष भिड़े, हाईप्रोफाइल मामले में पुलिस ने दोनों पक्ष को किया पाबंद 



सुल्तानपुर के जिस दियरा स्टेट में कभी लोगों की पंचायतें होती रही अब वहां के राज परिवार के मध्य कब्जेदारी का विवाद सड़क पर आ गया। राजघराने के दो पक्ष को आमने-सामने हुए हैं। एक पक्ष राजमहल के कमरे पर कब्जा का आरोप लगा रहा तो दूसरा पक्ष हवाई फायरिंग और वाहन क्षतिग्रस्त का आरोप। हालांकि फायरिंग का आरोप निराधार निकला है। मामला हाईप्रोफाइल है ऐसे में अधिकारी इसे सुलझाने में जुटे हैं।दियरा राजघराने के प्रतीक शाही पुत्र शिवेंद्र शाही का आरोप है कि उनके परिवार के वैभव प्रताप शाही अपनी मां इंदू शाही को लेकर दियरा स्थित राजमहल पहुंचे और एक कमरे का ताला तोड़कर अंदर घुस गए। वही वैभव प्रताप शाही का कहना है कि वह अपनी मां के साथ कई वर्षों से दियरा राजमहल में रह रहे हैं। उनका आरोप है कि प्रतीक शाही कुछ लोग के साथ पहुंचे और उन पर फायरिंग की। उनके वाहन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। मामला थाने तक पहुंच गया तो एसडीएम (न्यायिक) जयसिंहपुर वंदना पांडेय और सीओ जयसिंहपुर प्रशांत सिंह भी थाने पहुंचे। अधिकारियों ने दोनों पक्षों को सुना और के मौके का निरीक्षण किया। निरीक्षण में वाहन क्षतिग्रस्त मिला। लेकिन फायरिंग का आरोप बेबुनियाद। इंदू शाही को सामान सहित सुल्तानपुर आवास पर भेज दिया गया। जबकि दोनों पक्षों को पाबंद किया गया है। रात में मोतिगरपुर थाने पर उन्हें बैठाए रखा गया। वही किसी पक्ष ने भी थाने में तहरीर नहीं दी थी।

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads