राज्यपाल द्वारा आदर्श शिक्षक सम्मान से सम्मानित वयोवृद्ध शिक्षक पं. राधेश्याम तिवारी का निधन, काशी में हुआ अंतिम संस्कार।।

राज्यपाल द्वारा आदर्श शिक्षक सम्मान से सम्मानित वयोवृद्ध शिक्षक पं. राधेश्याम तिवारी का निधन, काशी में हुआ अंतिम संस्कार 


राज्यपाल द्वारा आदर्श शिक्षक सम्मान से सम्मानित वयोवृद्ध शिक्षक पं. राधेश्याम तिवारी (95) का लंबी बीमारी के बाद देर रात निधन हो गया। आज देर काशी में उनके पार्थिव शव का अंतिम संस्कार किया गया। उनके इकलौते पुत्र वरिष्ठ अधिवक्ता पंडित राम मिलन तिवारी कादीपुर बार के वरिष्ठ सदस्य हैं, ऐसे में बार कादीपुर में उनके पिता के निधन पर अधिवक्ताओं ने शोक प्रकट करते हुए पूरे दिन कार्य से विरत रहे।

मृतक शिक्षक के पौत्र विवेक तिवारी सत्या माइक्रो कैपिटल लिमिटेड के सीईओ एवम सीएमडी ने बताया कि उन्हीं की प्रेरणा से बिजेथुआ महोत्सव की शुरुआत 1983 में तत्कालीन ग्राम प्रधान रहे वरिष्ठ अधिवक्ता प. राम मिलन तिवारी द्वारा की गई थी। जो कि आज भव्य रूप ले चुका है। इस बार के महोत्सव में कादीपुर तहसील के अंतर्गत पढ़ रहे कक्षा 8 के छात्र छात्राओं के लिए स्व. पं. राधेश्याम तिवारी छात्रवृत्ति योजना की घोषणा भी हो चुकी है। जिसका ऑनलाइन आवेदन 15 जनवरी 2024 से शुरू होने जा रहा है। इस योजना में कादीपुर तहसील के अंतर्गत स्कूलों में जो बच्चे इस वर्ष कक्षा 8 में पढ़ रहे हैं केवल वो ही आवेदन कर सकते हैं, पास होने पर मेरिट के आधार पर 100 बच्चों को जब वे कक्षा 9 में जायेंगे तो उन्हें कक्षा 9 में 9000, 10 में 10000, 11 में 11000और 12 में 12000 हजार करके सत्यपथ फाउंडेशन द्वारा दिया जाएगा। पं. राधेश्याम तिवारी के निधन से शिक्षा जगत से जुड़े हुए वर्ग और क्षेत्र वासियों में शोक की लहर दौड़ गई।

राधेश्याम तिवारी के निधन पर पूर्व आईएफएस अधिकारी राजितराम पाण्डेय, रत्नेश तिवारी, गिरजेश तिवारी विवेक पाण्डेय, पं. विजयधर मिश्र, उत्तम उपाध्याय, अम्बरीश मिश्र, राम विनय सिंह, जगदंबा उपाध्याय, महेंद्र मिश्र, अखिलेश तिवारी, रितेश दूबे, प्रदीप दूबे, अंकुर पाठक, विक्की वर्मा, आत्माराम मिश्रा, अंकित पांडे, रितेश उपाध्याय, धीरेन्द्र सिंह आदि ने शोक व्यक्त किया है।

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads