सुल्तानपुर में निष्पक्ष चुनाव पर उठे सवाल? आचार संहिता का हो रहा खुलेआम उल्लंघन! सतारूढ़ दल की 2 दिन में बिना अनुमति हुई दो बैठके!

सुल्तानपुर में निष्पक्ष चुनाव पर उठे सवाल? आचार संहिता का हो रहा खुलेआम उल्लंघन! सतारूढ़ दल की 2 दिन में बिना अनुमति हुई दो बैठके?

सुल्तानपुर में सत्ताधारियों ने चुनाव आयोग को चुनौती देना शुरू कर दिया है। खासकर बल्दीराय ब्लॉक क्षेत्र में दो दिन में यहां आचार संहिता उल्लंघन के दो मामले सामने आए हैं। पहला मामला ब्लॉक प्रमुख के साथ भाजपाइयों ने चुनाव आयोग को खुली चुनौती दी। बगैर अनुमति के ही पार्टी का बैनर लगाकर ब्लॉक सभागार में मीटिंग कर डाला। इस मामले में नोटिस जारी हकिए जाने की बात सामने आई है। वही बुधवार को वलीपुर बाजार के श्री परमेश्वरी प्रसाद इंटर कॉलेज में मंडल प्रभारी बबीता तिवारी के नेतृत्व में बिना परमीशन बैठक हुई है।


बल्दीराय ब्लॉक सभागार में मंगलवार को भाजपाई पार्टी का झंडा बैनर लेकर बैठक करने पहुंच गए। उन्हें डर किसका होता, जब ब्लॉक प्रमुख शिवकुमार सिंह का उनका नेतृत्व कर रहे थे। ब्लॉक प्रमुख की दहशत ऐसी कि ब्लॉक के अधिकारी भी भाजपाइयों को बगैर अनुमति बैठक करने से रोकने की हिम्मत नहीं जुटा सके। बैठक में भाजपा मंडल प्रभारी बल्दीराय मनीषा पांडेय, मंडल अध्यक्ष राजधर शुक्ला, पंकज शुक्ला, दिलीप सिंह, नरेंद्र अग्रहरि, वीरेन्द्र तिवारी समेत कार्यकर्ता मौजूदगी थे। बाकायदा स्वागत समारोह का दौर चला था। हालांकि इस मामले में SDM विदुषी सिंह ने जानकारी दी है कि बैठक के लिए कोई अनुमति नहीं ली गई थी। वही उन्होंने बताया कि कार्यालय प्रभारी को नोटिस जारी की जा रही है। जवाब आने के बाद अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।


बबीता तिवारी के नेतृत्व में हुई बैठक 

उधर मनबढ़ भाजपाइयों ने अगले दिन फिर चुनाव आयोग को सीधे ललकारा। यहां बिना अनुमति भारतीय जनता पार्टी की बैठक मंडल पीपर गांव के वलीपुर बाजार के श्री परमेश्वरी प्रसाद इंटर कॉलेज में की गई। कार्यक्रम में मंडल प्रभारी श्रीमती बबिता तिवारी उपस्थित रही। उनके अलावा विधानसभा संयोजक बलराम मिश्र, विस्तार विजय दूबे, पूर्व मंडल अध्यक्ष प्रदीप पांडे सहित भाजपा के दर्जनों वरिष्ठ कार्यकर्ता उपस्थित थे। इसकी भी फोटो वायरल हुई है। 


पीएम की फोटो लगे झोले में बंटवाए गए पुष्टाहार 

तीन दिन पूर्व ही जिले भर में बाल पुष्टाहार वितरण हुआ। आंगनबाड़ी केंद्रों पर खुलेआम पीएम की फोटो लगे झोले में पुष्टाहार प्रशासन की जानकारी में वितरण कराया गया। यही नहीं जब बल्दीराय के ही नन्दौली आदि क्षेत्रों से खबरें और फोटो सामने आई तो कार्रवाई करने के बजाए प्रशासनिक दबाव बनवाकर सोशल मीडिया से खबरें ही हटवाई गई। ऐसे में जिले में निष्पक्ष चुनाव की कौन सी इबारत लिखी जानी है अंदाजा लगाया जा सकता है।

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads