सुल्तानपुर में फूड प्वाइजनिंग से शिकार हुए एक ही परिवार के चार लोग, एक की हुई मौत।

सुल्तानपुर में फूड प्वाइजनिंग से शिकार हुए एक ही परिवार के चार लोग, एक की हुई मौत।



भोजन करते हुए एक ही परिवार चार भाई-बहन हुए बीमार, मूर्च्छित अवस्था में लाए गए अस्पताल 

सुल्तानपुर के लंभुआ तहसील क्षेत्र के नारायणपुर में एक परिवार में चार लोग फूड प्वाइजनिंग का शिकार हुए हैं। बीमार सभी को सीएचसी लाया गया। जहां एक चार वर्षीय बच्ची की मौत हो गई। वही बीमार तीन अन्य को गंभीर हालत में राजकीय मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है।यहां उनका इलाज चल रहा है। 


जानकारी के अनुसार लंभुआ तहसील अंतर्गत कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के नारायणपुर गांव में मंगलवार को उस समय हड़कंप मच गया जब एक ही परिवार में चार बच्चे फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गए। सभी को उल्टी-दस्त की शिकायत हुई और वो मूर्च्छित अवस्था में पहुंच गए। आनन-फानन में सभी को एंबुलेंस से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भदैया लाया गया। जहां एक को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। बीमार अन्य बच्चों को राजकीय मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया। बताया जा रहा है कि नारायणपुर गांव निवासी राम सिंगार पाल के बच्चे शिवांशी पाल, सुभी पाल, हिमांशु पाल और अभी पाल फूड प्वाइजनिंग का शिकार होकर बीमार पड़े थे। 


स्थानीय लोगों के अनुसार बच्चे स्कूल से घर पर आए और भोजन किया। जिसके बाद वे फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गए। इधर इन बच्चों की मां घर पर नहीं थी। वो खेत से लौटी और बच्चों को मूर्च्छित अवस्था में देखा तो रोने पीटने लगी। आवाज सुनकर आसपास के लोग भी जमा हो गए। 

पूरे मामले में सीएमएस डाक्टर एस के गोयल का बयान



इस मामले में सीएमएस डॉ. एसके गोयल ने बताया कि तीन बच्चे अस्पताल में आए हैं, इनमें हिमांशु 18 वर्ष का है बाकी दो बच्चे 8-10 वर्ष के हैं। सबका इलाज चल रहा। हालत खतरे से बाहर है। अभी पाल (4वर्ष) की मौत हो गई है।

रिपोर्ट/सरफराज अहमद

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads