किसान दिवस पर भारतीय किसान यूनियन अंबाता गुट ने बैठक का किया बहिष्कार,जमकर की नारेबाज़ी।

किसान दिवस पर भारतीय किसान यूनियन अंबाता गुट ने बैठक का किया बहिष्कार,जमकर की नारेबाज़ी। 
किसान नेता अधिकारियों का इंतजार करते हुए विकास भवन सभागार 


भारतीय किसान यूनियन (अंबाता गुट)द्वारा किसान दिवस पर एक प्रत्येक माह के तृतीय बुधवार को एक बैठक विकास भवन के सभागार में आयोजित होता आ रहा है जिसमें प्रशासन की तरफ से 10:00 बजे का समय निर्धारित था। लगातार किसान दिवस पर किसान अधिकारियों का इंतजार करते रहे किंतु 2:00 बजे तक कोई भी अधिकारी सभागार तक पहुंचने और किसान नेताओं के साथ बैठक करने की सुध तक ना ली, आखिरकार भारतीय किसान यूनियन अंबाटा गुट के युवा कार्यकर्ता और पदाधिकारी के सब्र का बांध टूट गया और विकास भवन के गेट पर ही सीडीओ अंकुर कौशिक के सामने ही प्रशासन और व्यवस्था के खिलाफ जमकर नारेबाजी शुरू कर दी। साथ ही साथ भारतीय किसान यूनियन अंबाटा गुट ने निर्णय लिया की अब किसी भी प्रशासनिक बैठक या मीटिंग का किसान द्वारा बहिष्कार किया जाएगा। मौके पर दर्जनों की संख्या में आए आए किसान नेता ने अपने साथ हुई किरकिरी का विरोध दर्ज कराया और साथ ही साथ प्रशासन को नारेबाजी करते हुए भविष्य में इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति ना हो इसके लिए एक जुटता के साथ सभी ने संकल्प भी लिया। यह पहली बार नहीं है जब किसान संगठनों और किसान नेताओं के साथ इस तरह का उदासीनता दिखाई गई हो।। देश को अन्न देने वाला अन्नदाता कि जब स्थिति इतनी दयनीय है तो सोचिए और समझिए की सामान्य व्यक्ति के साथ क्या होता होगा। और उसकी कितनी उपेक्षा की जाती होगी।। किसान दिवस के मौके पर भारतीय किसान यूनियन अंबाटा गुट के पदाधिकारी में मुख्य रूप से युवा प्रदेश उपाध्यक्ष संतोष मिश्रा के अगुवाई में दर्जनों से ज्यादा पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।।

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads