सपा प्रत्याशी वा पूर्व मंत्री राम भुआल का बड़ा बयान, बीजेपी ने कोरोनाकाल में लाशों को बालुओ में दबवाया, मोदी के हाथ-पांव गए थे फूल

सपा प्रत्याशी वा पूर्व मंत्री राम भुआल का बड़ा बयान, बीजेपी ने कोरोनाकाल में लाशों को बालुओ में दबवाया, मोदी के हाथ-पांव गए थे फूल 

सुल्तानपुर में 25 मई को छटें फेस में होने वाले चुनाव से पहले जिले का सियासी पारा हुआ बेहद गर्म।


मंगलवार को सदर विधानसभा क्षेत्र के माधवपुर में नुक्कड़ सभा में सपा प्रत्याशी व पूर्व मंत्री राम भुआल के संबोधन में यह बानगी देखने सुनने को मिली। उन्होंने कहा जब कोरोना आया था तब ये सरकार हमारे आपके जो लोग सूरत, गुजरात, मुंबई दूसरे प्रदेशों में काम कर रहे थे तब यही सरकार थी। सूरत से सुल्तानपुर कोई सरकारी बस आया कोई नहीं आया। जो अपने बीवी बच्चों को लेकर आ रहे थे उनको लाठियों से पीटा गया। बहुत से लोगों की लाश ये सरकार श्मशान घाट पर बालुओ में दबा दी जलाया नहीं गया। तब मोदी के हाथ पांव फूल गए थे ये करने वाले कुछ नहीं हैं। 


राम भुआल ने मोदी पर कसा तंज! बोले यह हैं नौटंकीबाज



उन्होंने आगे कहा लोग अब समझदार हो गए हैं, अपना अच्छा और बुरा समझ रहे हैं। उन्हें पता चल गया है कहा हमारा सम्मान है। लोग अब मोदी की लालच में आकर उनको वोट कर दिए लेकिन अब ठगा महसूस कर रहे हैं। सब समझ गए हैं ये नौटंकी बाज हैं। अपने संबोधन में राहुल गांधी की पांच गारंटी का उल्लेख करते हुए कहा जब राहुल पांच गारंटी की बात कर रहे हैं तो भाजपा वाले भी गारंटी की बात कर रहे हैं। आप सभी लोगों को पता है, हो सकता है माताओं बहनों को ना पता हो। मोदी शादी किए थे, शादी के चार साल बाद वो अपनी पत्नी को छोड़े थे। तो जो अपनी औरत का नहीं हो सकता वो इस देश का क्या हो सकता है। उनकी बातों में आने की जरूरत नहीं है। 

15 लाख के लिए खुलवाए थे जीरो बैलेंस वाले खाते 

पूर्व मंत्री ने कहा लोग विश्वास करके 2014 में वोट दिए, इन्होंने वादा किया था कि अच्छे दिन आएंगे। इन्होंने नारा दिया था मोदी आने वाले हैं अच्छे दिन आने वाले हैं। लोगों ने भरोसा किया ये पंद्रह लाख दे देंगे हमारी गरीबी दूर हो जाएगी। इसके लिए बाकायदा जीरो बैलेंस से खाता भी खुलवा दिया तो और लोगों को भरोसा हो गया। पांच साल लोग देख लिए, फिर से पांच साल देखे हो सकता है वो जो पंद्रह लाख का वादा किए थे मिल जाए। 

475 का सिलेंडर 1200 में रहा मिल 

उन्होंने कहा ये भी एक नारा था बहुत हुई महंगाई की मार इस बार बीजेपी की सरकार। लेकिन महंगाई पूरे दस साल एक भी रुपया कम हुआ हो तो बताए। चाहे डीजल हो चाहे गैस हो। गैस का सिलेंडर 475 से 1200 रुपए हो गया। लोगों के पास गैस सिलेंडर तो है लेकिन भरवाने के पैसे नहीं हैं। ये सरकार झूठ बोलकर, झूठा आश्वसन देकर सबका साथ सबका विकास कह रही थी। सबका साथ तो ले लिए लेकिन किसी का विकास नहीं किए। लोगों को लगा हम ठगे गए तो लोग गुस्से में हैं कि मोदी सरकार को हटाया जाए। इसलिए लोग जहां गठबंधन की मीटिंग हो रही है भारी संख्या में आ रहे और समर्थन दे रहे हैं।

रिपोर्ट/सरफराज अहमद

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads