सुल्तानपुर में मीटिंग करने पर दी जा रही धमकी, पूर्व ब्लॉक प्रमुख का बड़ा आरोप।

सुल्तानपुर में मीटिंग करने पर दी जा रही धमकी, पूर्व ब्लॉक प्रमुख का बड़ा आरोप।

 
गैंगेस्टर लगाकर खोल दी जाएगी हिस्ट्रीशीट, पिछले चुनाव में हमको गया हराया 


बाहुबली पूर्व ब्लॉक प्रमुख ने गुरुवार को भाजपा और प्रशासन पर एक के बाद एक कई बड़े आरोप लगाए हैं। मायंग स्थित अपने आवास पर आयोजित कार्यक्रम को लेकर उन्होंने कहा आज सुबह से कहा गया मीटिंग कैंसिल कर दीजिए। नहीं तो गैंगेस्टर लग जाएगा, आपकी हिस्ट्रीशीट खुल जाएगी। उन्होंने नाराज होते हुए कहा अब कौन सी हिस्ट्रीशीट खुलनी बाकी है। 

बागी बनना करेंगे पसंद लेकिन किसी की गुलामी करना नहीं।


उन्होंने कहा हमको डरवाकर आप झुका नहीं सकते। उन्होंने यह भी कहा हम बागी बनना पसंद करेंगे लेकिन किसी की गुलामी करना पसंद नहीं करेंगे। उन्होंने कहा जिस तरह से बढ़ चढ़कर हमने यहां की प्रत्याशी को बराबर की टक्कर दी थी हम चुनाव जीते थे हमको हराया गया है। यशभद्र सिंह ने कहा हमने इनको यहां का पानी पिला दिया था इनकी हालत खराब हो गई थी। जिस तरह से काउंटिंग बंद कराकर मशीनों को चेंज कराया गया था, हमारा एक दिन पहले जो काउंटिंग का पास बनता है उसको निरस्त कर दिया सिर्फ चुनाव हराने के लिए ऐसा किया गया। 

तीन बार इसौली सीट से लड़ चुके हैं विधानसभा चुनाव 


बता दें कि यशभद्र सिंह मोनू इसौली विधानसभा के कद्दावर नेता में से एक हैं। उन्होंने पहली बार साल 2012 में पीस पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा और तीस हजार से अधिक वोट पाकर हार गए। 2017 में वे लोकदल के सिंबल पर चुनाव लड़े और 44 हजार से अधिक वोट उन्होंने पाया, 2022 में वे बसपा से लड़े और पचास हजार के ऊपर उनको मत मिला था। उनके भाई पूर्व विधायक चंद्रभद्र सिंह को 2019 के चुनाव में मेनका गांधी के मुकाबले पर 14 हजार से हार मिली थी।

रिपोर्ट/सरफराज अहमद

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads