सपा के राम भुआल से 43,174 मतों से हारी 8 बार की सांसद मेनका गांधी।

सपा के राम भुआल से 43,174 मतों से हारी 8 बार की सांसद मेनका गांधी।
 
सुल्तानपुर में समाजवादी पार्टी ने पहली बार लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज कराया है। इंडिया गठबंधन से सपा प्रत्याशी राम भुआल निषाद ने भाजपा की पूर्व केंद्रीय मंत्री को 43,174 मत से हराया है। 29 राउंड की मतगणना के बाद पूर्व मंत्री को जीत मिल सकी। उनकी जीत पर सपाइयों और कांग्रेसियों में जश्न का माहौल देखने को मिला। 


बीते 25 मई को सुल्तानपुर में मतदान हुआ था। जहां 55. 61 प्रतिशत मतदान हुआ था। साल 2019 के मुकाबले इस बार .77 प्रतिशत मतदान कम था। बीते चुनाव की बात करें तो पुलवामा, राष्ट्रवाद और मोदी वेव थी, बावजूद इसके मेनका गांधी को अपनी जीत के लिए बहुत पापड़ बेलने पड़े थे। काफी जद्दोजहद के बाद वे 14 हजार मतों से ही जीत सकी थी। जिसका पांच सालों तक उन्हें मलाल रहा। उनकी जीत में निषाद, कुर्मी, यादव और दलित मतदाता निर्णायक थे। इस बार सपा ने निषाद कॉर्ड खेला तो बसपा ने कुर्मी कॉर्ड खेलते हुए उदराज वर्मा को उतारा। इसके इतर भाजपा की वेव भी नहीं रही। संविधान बचाने से लेकर लोकतंत्र बचाने और बेरोजगारी व महंगाई का करंट यहां भी दौड़ा। चुनावी बेला के अंतिम समय में जातिगत ध्रुवीकरण जमकर हुआ। सपा प्रत्याशी जहां निषाद वोटरों में बड़ा डेंट लगाते दिखे वही यादव मतदाताओं को साधने में कामयाब रहे। अंतिम समय में बड़ी संख्या में कुर्मी व दलित वोट भी गठबंधन के नाम पर डायवर्ट हो गए। ऐसे में यहां का मुकाबला दिलचस्प हो गया।
 
मंगलवार सुबह जब गिनती शुरू हुई तो पोस्ट बैलट से लेकर ईवीएम तक की गिनती में मेनका गांधी सपा प्रत्याशी राम भुआल से पीछे रही तो 29 राउंड की गिनती तक वो बढ़त नहीं बना सकी। राम भुआल को जहां 444330 मत मिले वही मेनका को 401156 मत मिले। जबकि बसपा के उदराज को 106325 मत से संतोष करना पड़ा।

रिपोर्ट/सरफराज अहमद

विज्ञापन

विज्ञापन के लिए 📞7007461767 पर संपर्क करें।Ads